शेयर मार्किट चार्ट कैसे समझे 2024 | Share Market Chart Kaise Samjhe

इस लेख के माध्यम से हम जानने की कोशिश करेंगे कि हम शेयर मार्किट चार्ट कैसे समझे (share market chart kaise samjhe) सकते हैं और उससे कैसे कमाई कर सकते हैं |

मैं आपको एक बात साफ – साफ बताना चाहूंगा कि सिर्फ चार्ट देख लेने से आप पैसे कमा नहीं सकते | उसके साथ आपको दूसरी चीज़ें भी सीखनी पड़ेगी अगर आप शेयर मार्केट से पैसे कमाना चाहते हैं तो |

साधारणतः एक नया इंसान जब मार्केट में आता है तो वह क्या करता है ? या तो वह न्यूज़ देखेगा या तो फिर पेपर पढ़ेगा और अनुमान लगाने की कोशिश करेगा कौन से स्टॉक ऊपर जायेंगे और कौन से निचे और उसपे पैसा लगाएगा | 

ऐसा क्यों ? क्यूंकि जब वह स्टॉक का चार्ट खोलता है तो उसे कुछ समझ नहीं आता की ये लाल और हरी चीज़ क्या है | उस लाल और हरी चीज को कैंडलस्टिक कहते हैं और बहुत सारे कैन्डल्स्टिक मिलकर एक कैंडलस्टिक चार्ट का निर्माण करते हैं |

Table of Contents

शेयर मार्किट चार्ट समझना क्यों जरूरी है ? 

शेयर मार्किट चार्ट कैसे समझे से ज़्यादा ज़रूरी है यह समझना कि शेयर मार्केट चार्ट समझना क्यों जरूरी है ? अगर आपको समझ में नहीं आया हो तो इस लाइन को एक बार और पढ़ लीजियेगा |

चलिए अब आते हैं शेयर मार्केट चार्ट समझना क्यों जरूरी है ? क्यूंकि शेयर मार्केट चार्ट समझ कर ही आप यह जान पाएंगे की स्टॉक में कहाँ निवेश करना सही होगा और कहाँ पर पैसे निकालना चाहिए | 

आप शेयर मार्केट चार्ट समझ कर ये भी जान सकेंगे की अब शेयर को बेचना का सही समय आ गया है या नहीं | इसके साथ-साथ आप ये भी जान पाएंगे अभी शेयर और कितना ऊपर जा सकता है और आप उस हिसाब से अपना टारगेट सेट कर सकते हैं |

वह ऐसा कौन सा जगह का प्राइस है जहाँ से स्टॉक ट्रेंड बदल सकता है, यह सब भी आप शेयर मार्केट चार्ट कैसे समझे इससे जान सकते हैं |

शेयर मार्केट चार्ट कितने प्रकार के होते हैं?

अगर आप tradingview पर जाकर देखें तो कम से कम आपको 17 तरह के चार्ट देखने को मिलेंगे पर आपको इन सभी चार्ट को समझना जरूरी नहीं है पर आपको इनमे से 3 से 4 तरह के चार्ट के बारे में मालूम होन चाहिए | शेयर मार्किट चार्ट कैसे समझे यह जानने से पहले आपको मार्केट में कितने तरह के चार्ट होते हैं वह जानना भी जरूरी है |

अगर आपको शेयर मार्केट में चार्ट समझना है तो आपको सिर्फ 1 चार्ट पर महारत हासिल करनी होगी और वो है candlestick chart | पर इसके अलावा और भी चार्ट होते हैं जैसे कि – line chart, bar chart, Heikin Ashi chart, candlestick chart इत्यादि, चलिए एक – एक करके इनके बारे में जानते हैं |

  1. लाइन चार्ट (Line chart) – यह सबसे आसान दिखने वाला चार्ट होता है और इस चार्ट को देखकर आप ज्यादा कुछ नहीं समझ पाएंगे क्यूंकी इस चार्ट में बस शेयर का प्राइस मूवमेंट रहता है | इसमे आप open-high-low-close नहीं देख सकते |
  2. बार चार्ट (bar chart) – जब आप इस चार्ट को देखेंगे तो आपको इसमे एक सीधी खड़ी रेखा दिखाई देगी | यह 2 रंग की होगी हरी और लाल और इसमे आप कैन्डल का हाई – लो सब देख सकते हैं पर इसमे एक नुकशान यह है कि आप इस चार्ट से candlestick pattern नहीं पहचान पाएंगे | इसके लिए हमे candle chart देखना पड़ेगा |
  3. कैन्डल चार्ट (Candlestick Chart) – यह सबसे advance लेवल का चार्ट है और बहुत बड़े – बड़े ट्रेडर इसी चार्ट का इस्तेमाल करते हैं अपना ट्रेडिंग करने के लिए, क्यूंकी यह चार्ट सबसे ज्यादा जानकारी प्रदान करने वाला चार्ट होता है | इसमे आप कैन्डल पैटर्न भी देख सकते हैं जैसे कि – हैमर और shooting star और इसके साथ – साथ बहुत तरह के चार्ट पैटर्न जैसे कि – reactangle, triangle पैटर्न भी देख सकते हैं |
  4. Heikin Ashi – Heikin Ashi कैन्डल्स्टिक चार्ट से थोड़ा नीचे लेवल का चार्ट है | ऐसे इसलिए है क्यूंकी कैन्डल चार्ट डेली basis पर प्राइस मूवमेंट ट्रैक करता है पर heikin ashi चार्ट कुछ दिन के रेंज का प्राइस मूवमेंट ट्रैक करता है | कैन्डल चार्ट की अपेक्षा heikin ashi चार्ट में noise कम देखने को मिलता है |

शेयर मार्किट चार्ट कैसे समझे ? | share market chart kaise samjhe ?

जब आप चार्ट खोलो तो आप घबराये नहीं कि इसमें हम क्या देखें क्यूंकि मैंने पहले भी बोला है कि आपको शेयर मार्केट चार्ट समझने के लिए थोड़ा बहुत चीज़ें समझनी पड़ेगी जैसे की मार्केट का ट्रेंड, ट्रेंड लाइन, सपोर्ट और रेजिस्टेंस जिसे डिमांड और सप्लाई जोन भी कहते हैं | 

अगर आप शेयर मार्किट चार्ट कैसे समझे जानना चाहते हैं तो आपको यह सब भी थोड़ा बहुत सीखना पड़ेगा और इसमें आपको लगातार अभ्यास करना पड़ेगा क्यूंकि सिर्फ जान लेने से कुछ नहीं होगा, इसके निरंतर अभ्यास से आपको आत्मविश्वास आयेगा और चार्ट देखने का कौशल  भी बढ़ेगा | 

अगर आपको इंसान पढ़ना आता है तो आप चार्ट को भी पढ़ना सीख जायेंगे | ऐसे मैं क्यों कह रहा हूँ ? ऐसा मैं इसलिए कह रहा हूँ क्यूँकि शेयर को भी खरीदा और बेचा जाता है और उसे खरीदता कौन है ? इंसान !!!

इसलिए अगर आप यह समझ जाएं की इंसान कौन से प्राइस पर किसी शेयर को खरीदने और बेचने में रूचि लेता है तो आप चार्ट को पढ़ना आसानी से सीख जाएंगे |

शेयर मार्किट चार्ट कैसे समझे
शेयर मार्किट चार्ट कैसे समझे (share market me chart kaise samjhe)

इसलिए स्टॉक्स का भी अपना एक व्यवहार (behaviour) होता है, हर स्टॉक का चार्ट उसके व्यवहार को बताता है | यानि उसके खरीदने और बेचने वाले के व्यवहार को बताता है |

इसलिए अगर आप किसी स्टॉक में निवेश कर रहे हैं तो पहले उसके व्यवहार (behaviour) को समझिये फिर उसके बाद उसमे निवेश करिये | 

बहुत सारे ऐसे स्टॉक होते हैं जो धरल्ले से ऊपर जाते हैं और धरल्ले से निचे आते हैं मतलब इसमें single top बनता है, जो एक पैटर्न है |

पर कुछ स्टॉक ऐसे भी होते हैं जो या तो दो बार या तीन बार टॉप बनाते हैं फिर निचे आते हैं, यह सब आप आराम से देख पाएंगे जब आप शेयर मार्किट चार्ट कैसे समझे जान जाएंगे |

और तो और कई स्टॉक ऐसे होते हैं जो धीरे से ऊपर जाते हैं और हौले – हौले निचे आते हैं |  इसे ही हम स्टॉक का बिहैवियर कहते हैं |

जब आप स्टॉक के बिहैवियर को समझ जाते हैं तो आप यह अनुमान लगा सकते हैं कि उसके साथ अगला क्या हो सकता है, क्यूंकि उसने पहले ऐसा किया है | आप पढ़ रहे हैं शेयर मार्किट चार्ट कैसे समझे |

शेयर मार्केट चार्ट कैसे देखें ? | share market ka Chart kaise dekhe ?

अगर आपको नहीं पता है कि शेयर मार्केट chart kaise dekhe तो उसके लिए आप चार्ट देखने के कुछ नियम को पढ़ सकते हैं, जिन्हे मैं यहाँ पर आपके साथ साझा करना चाहता हूँ, जिसे मैं खुद भी फॉलो करता हूँ –

  1. चार्ट को हमेशा बड़े टाइमफ्रेम से देखना शुरु करें
  2. उसका बाद बड़े टाइम फ्रेम पर ट्रेंड पता करें
  3. ट्रेंड मिलने के बाद सपोर्ट resistance ढूड़े
  4. फिर छोटे टाइम फ्रेम पर आए
  5. छोटे टाइमफ्रेम में फिर से ट्रेंड पता करें (कभी – कभी बड़े टाइम फ्रेम और छोटे टाइमफ्रेम का ट्रेंड अलग हो सकता है)
  6. इसके बाद volume को देखें

अगर आप वाकई में चार्ट देखना सीखना चाहते हैं और आपका सवाल है कि chart dekhna kaise sikhe तो आप ऊपर दिए हुए 6 पॉइंट को ध्यान से पढ़ें |

मार्केट में बहुत सारी वेबसाईट हैं जैसे कि – Tradingview, investing.com इत्यादि जिसका इस्तेमाल करके आप चार्ट को देख और समझ सकते हैं | इन चार्ट्स को tradingview पर देखना बहुत ही आसान है परंतु आप investing.com पर भी चार्ट देख सकते हैं |

आशा करता हूँ आपको आपके सवाल शेयर मार्केट चार्ट कैसे देखें समझ में आ गया होगा तो चलिए अब हम आगे बढ़ते हैं और
share market me chart ko kaise samjhe
इसे विस्तार से जानने का प्रयास करते हैं |

चार्ट देखना हमेशा बड़े टाइमफ्रेम से शुरू करें

शेयर मार्किट चार्ट कैसे समझे में हम सबसे पहले चार्ट को किस टाइमफ्रेम में देखना है, इसके बारे में जानेंगे |

जब भी किसी भी स्टॉक का चार्ट खोलते हैं तो सबसे पहले आपको उस स्टॉक का monthly chart खोल लेना है और उसमे ट्रेंड को खोजने का प्रयास करना है |

चार्ट अलग – अलग टाइमफ्रेम में अलग – अलग ट्रेंड दिखाता है हो सकता है बड़े टाइमफ्रेम में uptrend हो परंतु छोटे टाइम फ्रेम में downtrend हो, इसलिए आपको चार्ट सबसे पहले बड़े टाइम फ्रेम में देखना चाहिए |

भले ही छोटे टाइम फ्रेम में उसका ट्रेंड उसके बड़े टाइम फ्रेम से अलग हो परंतु छोटा टाइम फ्रेम हमेशा बड़े टाइम फ्रेम को फॉलो करता है और उसी के अनुसार चलता है |

मार्केट ट्रेंड पहचानने का प्रयास करें

शेयर मार्किट चार्ट कैसे समझे में अब हम मार्केट के ट्रेंड को पहचानने का प्रयास करेंगे | इस खंड में हम मार्केट ट्रेंड क्या होता है, कितने प्रकार के होते हैं और इसे कैसे पहचाननते है, इसे देखेंगे |

शेयर का ट्रेंड पता करना बहुत ही जरूरी होता है, भले ही वह ट्रैडर हो या निवेशक वह सबसे पहले हमेशा ट्रेंड पता करता है, जोकि बहुत ही जरूरी होता है |

ट्रेंड देखना इसलिए भी जरूरी होता है क्यूंकी इससे हमे यह अंजदाज़ा लगाना आसान हो जाता है कि शेयर को कहाँ पर खरीदना या बेचना है | share market chart kaise samjhe में ट्रेंड का बहुत बड़ा योगदान होता है |

वैसे ट्रेंड देखना तो बहुत ही आसान है, चार्ट में तीन तरीके के ट्रेंड देखने को मिलते हैं , जिसके बारे में आप नीचे पढ़ सकते हैं |

  1. अपट्रेंड (Uptrend) – इस ट्रेंड में स्टॉक ऊपर जाता है फिर निचे आता है फिर ऊपर जाता है आता है, बिलकुल एक सीढ़ी की तरह, इसे अपट्रेंड कहते हैं और इस पैटर्न को HH (higher high) और HL (higher low) ट्रेंड के नाम से भी जाना जाता है | इसमें जब शेयर निचे आये तो आपको उसे खरीदना चाहिए | 
शेयर मार्किट चार्ट कैसे समझे
शेयर मार्किट चार्ट कैसे समझे
  1. डाउन ट्रेंड (Downtrend) – शेयर मार्किट चार्ट कैसे समझे में यह हमारा दूसरा पड़ाओ है | वैसे तो नाम से स्पष्ट हो गया होगा की इसमें स्टॉक निचे आता है | इस ट्रेंड में पहले स्टॉक निचे आता है फिर ऊपर जाता है, फिर निचे आता है फिर ऊपर जाता है | 

इसे ट्रेंड को डाउन ट्रेंड कहते हैं और इस पैटर्न को LH (lower high) – LL (lower low) पैटर्न बोलते हैं | इसमें आपको स्टॉक नहीं खरीदना चाहिए और अगर आपके पास कोई स्टॉक है तो उसे बेचना चाहिए, जैसे ही आप यह पैटर्न देखते हैं | 

शेयर मार्किट चार्ट कैसे समझे
शेयर मार्किट चार्ट कैसे समझे
  1. साइड वेज़ ट्रेंड (Sideways) – इसमें स्टॉक न ऊपर जाता है और न ही निचे आता है | इसमें स्टॉक एक रेंज में घूमता रहता है | कोई निश्चित दिशा न होने के कारण आपको ऐसे स्टॉक में निवेश नहीं करना चाहिए, जब स्टॉक इस रेंज को तोड़ो उसके बाद ही निवेश का सोचे | 

इसमे आप यह भी कर सकते हैं, कि जैसे ही स्टॉक अपने सपोर्ट के पास आए तो उसे खरीद लें फिर जैस ही वो अपने resistance के करीब पहुँचे तो उसे बेच दें |

ट्रेंड मिलने के बाद सपोर्ट और रेसिस्टेंस बनाए

शेयर मार्किट चार्ट कैसे समझे में अब हम support – resistance कैसे बनाए इसे देखेंगे | जब आपको ट्रेंड मिल जाता है, उसके बाद आप चार्ट में support – resistance को बनाए |

सबसे पहले आपको बड़े टाइम फ्रेम में support – resistance बनाना है फिर उसके बाद आप छोटे टाइम फ्रेम में सपोर्ट और रेसिस्टेंस बनाए, यह सही तरीका होता है सपोर्ट और रेसिस्टेंस बनाने का |

शेयर मार्किट चार्ट कैसे समझे pdf free download

आप नीचे दिए गए download बटन पर क्लिक करके शेयर मार्किट चार्ट कैसे समझे pdf download कर सकते हैं और chart analysis in hindi को समझ सकते हैं |

इसके अलावा अगर आप शेयर मार्केट कैसे सीखे pdf डाउनलोड करना चाहते हैं तो उसे भी आप फ्री में डाउनलोड कर सकते हैं |

परंतु अगर आप शेयर मार्केट कैसे सीखे हिंदी में pdf वाला पूरा लेख पढ़ना चाहते हैं तो आप वह वाला लेख भी पढ़ सकते हैं, जिसमे हमने detail में बताया हुआ है की आप शेयर मार्केट कैसे सीख सकते हैं |

निफ्टी चार्ट कैसे देखे | Nifty ka chart kaise dekhe ?

अगर आप निफ्टी में ट्रेडिंग करना चाहते हैं तो आपको इस वाले खंड को ध्यान से पढ़ना चाहिए | यह तरीका आपको nifty chart में काम तो आएगा ही पर उसके साथ banknifty chart में भी काम आएगा |

निफ्टी 50 चार्ट को सबसे पहले आप monthly टाइम फ्रेम में खोल लें और ऊपर दिए हुए तरीकों से उसका ट्रेंड पता कर लें फिर उसके बाद आप weekly चार्ट खोले और उसमे सपोर्ट – रेसिस्टेंस बनाए |

अगर मौजूदा हफ्ते का प्राइस पिछले हफ्ते के रेंज के अंदर है तो इसमे आपको अच्छी तेजी नहीं मिलेगी, इसलिए आपको पिछले हफ्ते के रेंज टूटने का इंतज़ार करना है |

वीकली टाइम फ्रेम के बाद आप डेली टाइम फ्रेम का चार्ट खोले और उसमे डिमांड एण्ड सप्लाइ ज़ोन बनाए | अगर आपको डिमांड – सप्लाइ नहीं बनाना आता तो आप हमारा लेख पढ़ सकते हैं |

अगर आप किसी भी शेयर चार्ट को समझना चाहते हैं तो आप इस तरीके की मदद से समझ सकते हैं | उम्मीद करता हूँ आपको आपके सवाल share market ka chart kaise samjhe मिल गया होगा |

ट्रेडिंग चार्ट को कैसे समझे ? | Trading Chart kaise samjhe?

नीचे मैं आपको कुछ पॉइंट बता रहा हूँ, जिससे आपको आपके सवाल trading chart kaise dekhe का जवाब मिल जाएगा और आप चार्ट को देखना और समझना सीख जाएंगे |

  • ट्रेंड देखने के बाद अब आपको यह देखना होगा कि उस शेयर का अगला सपोर्ट या रेजिस्टेंस कहाँ पर है | इसको देखने के लिए आपको उस जगह को खोजना पड़ेगा  जहाँ से स्टॉक या तो गिरा हो या अगर गिर रहा था तो जहाँ से ऊपर गया हो |
  • और अगर मान लीजिये किसी स्टॉक ने अपना पिछला सपोर्ट तोड़ा हो तो,अब वह उसके लिए रेजिस्टेंस का काम करेगा और अगर रेजिस्टेंस  तोड़ा हो तो,अब वह उसके लिए सपोर्ट का काम करेगा | 
  • जैसे ही आपने सपोर्ट -रेसिस्टेंस ढूड़ लिया, उसके बाद आपको वहाँ पर candlestick pattern को खोजने का प्रयास करना है |
  • इसके बाद आपको यह देखना है उस शेयर के चार्ट में मोमेंटम कैसा है, मतलब उस शेयर का चार्ट कितनी तेजी से ऊपर जा रहा या निचे गिर रहा है |  क्यूंकि बहुत सारे ऐसे स्टॉक्स होते हैं जो बहुत तेजी से ऊपर जायेंगे और कुछ ऐसे होंगे जो धीरे – धीरे जायेंगे | 
  • इसलिए अगर आपको उस स्टॉक का बिहैवियर पता लग गया यानि तेज जा रहा है या धीरे – धीरे, तो उस हिसाब से आप उसमे पैसा लगा सकते हैं | धीरे वाले शेयर में लगाएंगे तो धीरे – धीरे बढ़ेगा और अगर तेज़ वाले में लगाएंगे तो जल्दी – जल्दी बढ़ेगा | 
  • आपको हमेशा बड़े टाइमफ्रेम से शुरुआत करनी चाहिए चार्ट को analyse करने कि फिर उसके बाद छोटे टाइम फ्रेम में आना चाहिए |
  • कहते हैं बड़ा टाइमफ्रेम आपको ट्रेंड पता करना चाहिए है और छोटा टाइमफ्रेम में आपको ट्रेड लेना चाहिए |

शेयर मार्किट चार्ट कैसे समझे यह जानने के लिए आपको ऊपर दिए हुए पॉइंट्स को बहुत ध्यान से पढ़ना है क्यूंकी यह आपको चार्ट समझने में और ट्रैड लेने में बहुत ही सहायता करेंगे |

शेयर मार्किट चार्ट कैसे समझे निष्कर्ष

इस पूरे लेख में हमनें सीखा शेयर मार्किट चार्ट कैसे समझे (share market ke chart ko kaise samjhe), शेयर मार्किट चार्ट कैसे देखें एवं हमने आपको इसी का share market charts pdf भी प्रदान किया |

इसके अलावा हमने आपको trading chart ko kaise samjhe इस सवाल का जवाब भी दे दिया है | मैंने आपको how to read stock charts for beginners pdf भी प्रदान कर दिया है जिसे आप डाउनलोड कर सकते हैं और खाली समय में पढ़ सकते हैं |

आशा करता हूँ आपको share market me chart kaise samjhe, अच्छे से समझ में आ गया होगा | अगर आपके पास किसी भी प्रकार का सवाल है तो आप उसे नीचे कमेन्ट में पूछ सकते हैं

For the homepage click on – Bharatinvestingerabykaushal

Share market ka chart kaise dekhte hain ?

आपको शेयर मार्केट के चार्ट को सबसे पहले बड़े टाइम फ्रेम में देखना चाहिए और उसमे उसका ट्रेंड पता करना चाहिए फिर उसके बाद आपको छोटे टाइम फ्रेम में आना चाहिए |

Share market ka graph ko kaise samjhe ?

शेयर मार्केट के ग्राफ को समझने के लिए आपको price – action को समझना पड़ेगा, तभी आप शेयर मार्केट के ग्राफ को ठीक से समझ पाएंगे और उसके अगले चाल का अंदाजा लगा पाएंगे |

अगर प्राइस हाइयर – हाई और हाइयर लो लगाते हुए ऊपर जा रहा है और तो वह अपट्रेंड में है, जैसा मैंने आपको ऊपर में बताया हुआ है और यदि प्राइस लोअर हाई और लोअर – लो लगा रहा है तो वह नीचे आ रहा है तो वह डाउन ट्रेंड है |

आशा करत हूँ आपको share market graph kaise samjhe ठीक से समझ आ गया होगा | याद आपका इस लेख से संबंधित किसी भी प्रकार का सवाल है तो आप नीचे पूछ सकते हैं |

शेयर मार्किट चार्ट कैसे समझे FAQ

क्या शेयर मार्किट चार्ट समझे के ट्रेडिंग की जा सकती है ?

हाँ आप कर सकते हैं पर चार्ट के साथ आपको अलग अलग इंडिकेटर का ज्ञान होना ज़रूरी है |

शेयर मार्किट चार्ट को सीखने में कितना समय लग सकता है ?

ये इस पर निर्भर करेगा की आप एक दिन में कितना चार्ट देखते हैं, रोज़ उसकी प्रैक्टिस करते हैं या नहीं |

शेयर मार्किट चार्ट समझना क्यों ज़रूरी है ?

क्यूंकि इससे आप एक स्टॉक को कब खरीदना है कब बेचना है, इसका निर्णय अच्छे से ले सकेंगे |


शेयर मार्किट चार्ट कैसे समझे जिससे हम ट्रेडिंग कर सके ?

ट्रेडिंग करने के लिय सबसे पहले आपको मार्केट का ट्रेंड पता होन चाहिए, फिर उसके बाद आपको सपोर्ट और resistance खोजना है फिर कैन्डल्स्टिक कि मदद से आप ट्रेडिंग कर सकते हैं |

शेयर मार्केट का चार्ट कैसे देखा जाता है?

शेयर चार्ट को हमेशा बड़े टाइम फ्रेम में देखा जाता है | बड़े टाइम फ्रेम के बाद आप धीरे – धीरे छोटे टाइम फ्रेम में चार्ट को देख सकते हैं |

मेरा नाम कौशल कुमार है और मैं इस वेबसाईट का संस्थापक हूँ | मैं इस वेबसाईट के माध्यम से आप सभी को शेयर मार्केट की बारीक जानकारियों को बताना चाहता हूँ जिससे आप भी शेयर मार्केट से पैसे कमा सकें | मैं शेयर मार्केट में काफी समय से काम कर रहा हूँ और मेरा उद्देश है कि अपने अनुभव को आप तक पहुंचा सकूँ |

16 thoughts on “शेयर मार्किट चार्ट कैसे समझे 2024 | Share Market Chart Kaise Samjhe”

Leave a Comment