Nifty Bees क्या होते हैं और इसमें कैसे निवेश करें

नमस्कार दोस्तों, आज इस लेख के माध्यम से हम Nifty Bees क्या है, इसे समझेंगे और Nifty Bees में क्यों और कैसे निवेश करना चाहिए, इसको भी जानने का प्रयास करेंगे | 

इसके अलावा हम यह भी जानेगे कि निफ़्टी bees और इंडेक्स म्यूच्यूअल फंड में से किसमे निवेश करना ज़्यादा सही है | निफ़्टी bees के फायदे और नुकशान क्या – क्या हैं और कैसे हम इसका सही से उपयोग कर सकते हैं और अपने पैसों को बढ़ा सकते हैं |

और सबसे महत्वपूर्ण बात, अगर आपका सवाल यह है कि – nifty bees me invest kaise kare या nifty bees me sip kaise kare तो इसका जवाब भी हम आपको इसी लेख में बताएंगे |

अगर आप भी स्टॉक मार्केट में निवेश करना चाहते हैं और लॉंग टर्म में अच्छा धन जमा करना चाहते हैं तो इस लेख को पूरा पढ़ें क्यूंकि यह आपके निवेश के सफर में बहुत ही कारगर साबित होगा | तो चलिए सबसे पहले निफ्टी बीस क्या है, इसे जान लेते हैं |

Niftybees kya hai in hindi? | what are nifty bees in hindi?

Nifty Bees
Nifty Bees

निफ़्टी Bees में Bees का पूरा नाम (Benchmark Exchange traded Scheme) है और यह एक तरफ का ETF है जिसका पूरा नाम Exchange Traded Fund है |

निफ़्टी Bees की शुरुआत भारत में 28 दिसंबर 2001 में हुई थी और इसका चलन सबसे पहले Nippon India म्यूच्यूअल फण्ड वालों ने किया था | इसलिए इसे nippon India etf से भी जाना जाता है | 

भले ही भारत में ETF का चलन 2001 से शुरू हुआ हो परन्तु विश्व में यह काफी पहले ही आ गया था  और आज के समय में बहुत ही विभिन्न प्रकार के etf मार्केट में मौजूद हैं, जैसे की Gold ETF, Bank bees, PSU Bank bees और Junior Bees | 

Nifty Bees क्यों लाया गया ?

2000 के पहले लोग क्या करते थे कि वह किसी भी स्टॉक में निवेश कर देते थे और उसे भूल जाते थे और रखे अपने पास रखे रहते थे, यह सोच कर के कभी न कभी तो यह ऊपर जाएगा |

पर जबसे 2000 डॉट कॉम क्रैश हुआ है तबसे लोगों के पैसे बहुत बर्बाद हुए हैं इसलिए Dot.com crash के बाद भारत ने ETF लाकर बहुत ही अच्छा काम किया है |

ऐसा में इसलिए बोल रहा हूँ क्यूंकि पहले के लोग किसी भी स्टॉक में निवेश कर देते थे और लॉस होने के बाद उसे बेचते भी नहीं थे, यह सोच कर के कभी न कभी तो वह ऊपर आएगा | ऐसा स्टॉक में तो नहीं होता है परंतु अगर आप निफ्टी में निवेश किए हों तो जरूर हो सकता है |

इसलिए Nifty Bees उन लोगों के लिए तो बहुत ही अच्छा है जो एक बार invest कर के भूल जाते हैं और जो रखे रहते हैं क्यूंकी long term में इन लोगों को बहुत ही फायदा होगा |

ऐसे में स्टॉक इन्वेस्टमेंट में उनके ऊपर खतरा बहुत ही बढ़ जाता था इसलिए उन्हें एक ऐसे चीज़ की ज़रूरत थी, जिससे रिटेल निवेशकों पर खतरा कम हो और फायदा ज़्यादा हो सके | 

इसलिए ऐसे निवेशकों के लिए Nifty Bees बहुत ही अच्छा था जो ज़्यादा रिसर्च नहीं करना चाहते थे और कम समय में ऐसी जगह निवेश कर सकते थे जो उनको कुछ सालों बाद बहुत ही अच्छा मुनाफा बना कर दे | 

Nifty Bees काम कैसे करता है ? 

Nifty Bees एक ETF है और इसकी चाल और कीमत हमारे निफ़्टी इंडेक्स को आधार मानकर निकाली जाती है | निफ़्टी को आधार मान कर इसकी वैल्यू निकली जाती है | 

निफ़्टी bees डिट्टो हमारे निफ़्टी को फॉलो करता है और Nifty Bees का रिटर्न भी निफ़्टी के लगभग ही रहता है |

Nifty Bees share price target


nifty bees chart

Nifty Bees कैसे खरीद सकते हैं ? 

इसे खरीदना और बेचना बधूत ही आसान है, जैसे आप किसी शेयर को खरीदते और बेचते हैं ठीक उसी प्रकार आप Nifty Bees को खरीद बेच सकते हैं | यह आपको NSE और BSE दोनों ही एक्सचेंज पर मिल जायेगा | 

निफ़्टी bees को खरीदने के लिए आपके पास एक demat और trading अकाउंट होना बहुत ही आवश्यक है, क्यूंकि इसका लेखा – जोखा पूरा पेपर के फॉर्म में होता है | 

Nifty Bees investment strategy

हमने ये तो जान लिए कि nifty bees को कैसे खरीदा बेचा जाता है पर अब हम जानेगे कि इसे कब खरीदना चाहिए और कितना खरीदना चाहिए, तो इसे गौर से पढ़ियेगा | 

आप अपने कैपिटल का 5 से 10 प्रतिशत हिस्सा इसमें लगा सकते हैं  | अगर आपके पास 50,000 हैं तो इसका 10 % जोकि 5000 रूपए होता है, इसमे आप एक महीने में निवेश कर सकते हैं | 

भविष्य में बढ़ने वाले शेयर

अब ये तो पता लग गया कि इसमें कितना लगाना है अब ये जान लेते हैं कि कब लगाना है | Nifty Bees को आप तभी खरीदिए जब निफ़्टी में गिरावट आये और वह भी जब 1 % की गिरावट हो | 

अब 1 % की गिरावट में आप पूरे 5000 डालने की गलती न करें | आप अपने 5000 रुपयों को 2 से 3 भाग में बाँट लीजिये और तब जाकर इसमें निवेश करें |  

इससे यह होगा की अगर निफ़्टी निचे भी आता है तो आपके पास खरीदने के लिए पैसे होंगे और आप एवरेज कर लेंगे, फिर अगर निफ़्टी ऊपर गया तो आपको अच्छा रिटर्न देखने को मिलेगा |  

परन्तु अगर आप एक बार में पूरे पैसे लगा देंगे और निफ़्टी निचे गिरा तो पैसों के अभाव के कारण आप एवरेज नहीं कर पाएंगे और फिर निफ़्टी ऊपर भी गया तो आपको ज़्यादा रिटर्न नहीं मिलेगा | 

Nifty Bees investment strategy की महत्वपूर्ण बातें

  • आप अपने कैपिटल का 5 से 10 प्रतिशत हिस्सा इसमें लगा सकते हैं 
  • अगर आपके पास 50,000 हैं तो इसका 10 % जोकि ही आप Nifty Bees में निवेश करें |
  • 50000 का 10%, 5000 रूपए होता है, जिसे आप एक महीने में निवेश कर सकते हैं | 
  • Nifty Bees को आप तभी खरीदिए जब निफ़्टी में गिरावट आये और वह भी जब 1 % की गिरावट हो | 

Share market से पैसे कैसे कमाए

Nifty Bees return

चूँकि nifty Bees निफ़्टी को फॉलो करता है तो इसका रिटर्न भी लगभग निफ़्टी के जितना ही रहता है | जैसे निफ़्टी ऊपर निचे करके ऊपर जाता है, ठीक उसी तरह निफ़्टी bees का भी प्राइस ऊपर जाता है | 

जबसे nifty bees बना है तबसे इसने 15.81 % का रिटर्न दिया है और पिछले पांच सालों में यह 12.74 % के CAGR से बढ़ा है और वहीँ इसके दस साल का CAGR देखे तो 10.54 % है | 

Shooting Star कैंडलस्टिक पैटर्न से ट्रेडिंग कैसे करें

Nifty Bees के फायदे 

  1. Diversification 
  • सबसे पहला फायदे जो आपको निफ़्टी bees में मिलता है वह है diversification | वो कैसे ? nifty bees पूर्ण तरीके से निफ़्टी को फॉलो करता है | 
  • निफ़्टी 50 में मौजूद कंपनी हर सेक्टर की होती हैं, जिससे निफ़्टी diversification का लाभ देता है और अगर कोई कंपनी अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पा रही है तो उसे निकाल कर दुसरे को जोड़ दिया जाता है | 
  • इस तरीके से निफ़्टी 50 लगातार प्रदर्शन करते रहेगी और निफ़्टी bees भी लगातार ऊपर जाते रहेगा | 
  1. Less volatility
  • चूँकि यह इंडेक्स से बना हुआ है तो इसमें volatility की संभावना न के बराबर होती है | इसके प्राइस में आपको ज़्यादा उठा  पटक देखने को नहीं मिलेगी | 
  • यह स्टॉक्स की तरह नहीं है जो एक ही दिन में 2, 3 और 5 प्रतिशत ऊपर निचे हो जाते हैं | Nifty Bees उतना ही ऊपर निचे होगा जितना Nifty होगा | 
  1. Low Cost 
  • Nifty Bees को खरीदने – बेचने में बहुत ही कम चार्जेज देने पड़ते हैं | अगर आप इसकी तुलना किसी भी म्यूच्यूअल फण्ड से करेंगे तो इसमें चार्जेज न के बराबर लगते हैं | 
  1. Easy Execution 
  • जैसे आप किसी स्टॉक को खरीदते बेचते हैं ठीक उसी तरह इसे भी खरीद – बेच सकते हैं | यह खरीदते ही आपके Demat अकाउंट में दुसरे दिन ही ट्रांसफर हो जाते हैं | 
  • इसे बेचने के बाद आपका जो भी मुनाफा होता है तो आप उस मुनाफे जो अपने बैंक अकाउंट में ट्रांसफर भी कर सकते हैं | 

शेयर मार्केट चार्ट कैसे समझे

Nifty Bees के नुकशान 

  • इसका सबसे बड़ा नुकशान है कि आप इससे इंडेक्स के रिटर्न को मात नहीं दे पाएंगे | यह आपको उतना ही रिटर्न देगा जितना आपका इंडेक्स देता है | 
  • अगर आपको इंडेक्स रिटर्न को मात देना है तो आपको स्टॉक इन्वेस्टिंग सीखनी पड़ेगी और खुद से रिसर्च करके अच्छे स्टॉक्स चुनने पड़ेंगे जो आपको अच्छा रिटर्न दे पाए | 

Nifty Bees me SIP kaise kare?

अगर आप भी इस सवाल का जवाब ढूड़ रहे हैं तो मैं यहाँ पर आपको 3 ऐसे तरीके बताऊँगा जिसकी मदद से आप निफ्टी बीस में sip कर सकेंगे |

अगर आप इन तीनों तरीकों से निफ्टी बीस में sip करते हैं तो आप लॉंग टर्म में बहुत अच्छा रिटर्न बना पाएंगे और म्यूचूअल फंड तक के रिटर्न को मात दे पाएंगे |

इसमे जो तीसरा तरीका है वह मेरा खुद का पसंदीदा तरीका है, जो मैं खुद अपने निवेश में आजमाता हूँ | तो चलिए एक एक करके हम इन तीनों तरीकों के बारे में जानते हैं |

हर महीने निश्चित राशि का SIP करें

अगर आप किसी भी प्रकार का सिर दर्द नहीं पालना चाहते हैं तो आप यह वाला तरीका अपना सकते हैं और यह सबसे आसान तरीका भी है |

इस तरीके में आप हर महीने एक निश्चित तारिक को एक फिक्स राशि निफ्टी बीस में निवेश कर सकते हैं |

मार्केट गिरावट में SIP करें

अगर आप मार्केट को आखिरी के एक घंटे में देख सकते हैं तो यह तरीका आपके लिए है |

आपको इसमे बस यह देखना है कि मार्केट में किस दिन अच्छी गिरावट हुई है, जिस दिन आपको लगे कि मार्केट में अच्छी गिरावट आई है उस दिन आप पैसे निवेश कर दीजिए |

महीने में मुश्किल से मार्केट 20 से 22 दिन खुलता है और उसमे भी मार्केट बहुत कम समय अच्छी गिरावट दिखाता है |

जब आप गिरावट में निवेश करेंगे तो मार्केट के ऊपर जाने पर अच्छा रिटर्न भी बनाएंगे, इसलिए गिरावट में निवेश कीजिए (अमीर बनने का रहस्य है ) |

सपोर्ट के पास निवेश करें

यह तरीका हल्का मुश्किल है क्यूँकी इसके लिए आपको टेक्निकल ऐनालीसिस का एक महत्वपूर्ण नियम पता होना चाहिए और वो है सपोर्ट |

अगर आपको सपोर्ट और रेसिस्टेंस का ज्ञान नहीं है तो आप हमारे सपोर्ट और रेसिस्टेंस के लेख को पढ़ सकते हैं |

इस तरीके में आपको निफ्टी का डेली टाइम फ्रेम में सपोर्ट को निकाल लेना है | सपोर्ट एक ऐसी जगह होती है जहाँ से मार्केट ऊपर जाने लगता है |

सपोर्ट निकालने के बाद आपको बस इंतज़ार करना है कि कब निफ्टी अपने सपोर्ट पर आए और आप निफ्टी बीस में पैसे लगा सकें |

अगर आप खोज रहे हैं कि nifty bees me invest kaise kare है तो इसके लिए भी आप इन तीनों तरीकों का इस्तेमाल कर सकते हैं |

निफ़्टी बीस में कैसे निवेश कर सकते हैं ?

इसमें आप SIP कर सकते हैं और जब निफ़्टी गिरे तो lumsum पैसा भी डाल सकते हैं |

निफ्टी बीस का प्राइस कितना है ?

अभी के समय में 210.66 पर चल रहा है |


niftybees kya hai in hindi?

यह एक ETF है जिसका पूरा नाम Exchange Traded Fund है |

मेरा नाम कौशल कुमार है और मैं इस वेबसाईट का संस्थापक हूँ | मैं इस वेबसाईट के माध्यम से आप सभी को शेयर मार्केट की बारीक जानकारियों को बताना चाहता हूँ जिससे आप भी शेयर मार्केट से पैसे कमा सकें | मैं शेयर मार्केट में काफी समय से काम कर रहा हूँ और मेरा उद्देश है कि अपने अनुभव को आप तक पहुंचा सकूँ |

11 thoughts on “Nifty Bees क्या होते हैं और इसमें कैसे निवेश करें”

Leave a Comment