FMCG Stock की ऐनालीसिस कैसे करें | FMCG Stock Analysis in Hindi 2024 Best Method

FMCG stock की ऐनालीसिस कैसे करें, FMCG stock analysis in hindi, how to do FMCG stock analysis in hindi fmcg stock list in india, fmcg penny stock list, what are fmcg stocks, fmcg stock to buy now 

आज के इस लेख में हम FMCG stock की ऐनालीसिस करना सीखेंगे (FMCG stock analysis in hindi) और साथ में fmcg सेक्टर के best stock को भी निकालने का प्रयास करेंगे | 

FMCG stock analysis in hindi को करने से पहले हम fmcg stock क्या होते हैं (what are fmcg stocks), उसके बारे में जानेंगे और साथ में यह भी जानने का प्रयास करेंगे की fmcg कंपनी को चलाने में क्या – क्या मुश्किलें आती है और कैसे fmcg कंपनी को एक branded कंपनी बनाया जा सकता है | 

Fmcg stock क्या होते हैं? | what are fmcg stocks?

fmcg का फुल फॉर्म होता है fast – moving consumer goods और fmcg कंपनी के अंतर्गत ऐसे प्रोडक्ट आते हैं जिसका इस्तेमाल हम अपनी रोजमर्रा के ज़िंदगी में कर हैं जैसे की – साबुन, सर्फ, सब्जी मसाला, बिस्किट, नमकीन चप्पल, जूते, इत्यादि | 

Sub-category of FMCG sector

वैसे तो fmcg sector बहुत ही ब्रॉड सेक्टर है जिसके अंदर बहुत सारी सब – केटेगरी होती हैं जैसे कि – 

  • खाने – पीने के उत्पाद
  • पर्सनल केयर के प्रोडक्ट जैसे की क्रीम टूथपेस्ट इत्यादि
  • घर का सामान जैसे साफ सफाई वाले उत्पाद
  • Healthcare products jaise ki sugar free 
  • बच्चों के खाने पीने के सामान
  • पालतू जानवर के खाने और खिलोने

Fmcg stock की एनालिसिस कैसे करें ? FMCG stock analysis in hindi

Fmcg स्टॉक एनालिसिस करने के लिए हमें कुछ पैरामीटर को ध्यान रखना पड़ेगा | FMCG stock analysis in hindi में हम उन्हें पैरामीटर के बारे में चर्चा करेंगे जिसकी मदद से हम एक अच्छा fmcg स्टॉक को ढूंढ सके |

यहां पर हम जिन पैरामीटर को देखेंगे उसमें से कुछ तो हमारे महत्वपूर्ण ratio आ जाएंगे | ratio के अलावा हम कुछ अन्य पैरामीटर को भी देखेंगे जो एफएमसीजी स्टॉक को एनालाइज करने में जरूरी होते हैं

FMCG stock analysis in hindi
FMCG stock analysis in hindi

Volume growth

FMCG stock analysis in hindi का यह हमारा सबसे पहला पैरामीटर है | वॉल्यूम ग्रोथ को समझने से पहले हमें वॉल्यूम को समझाना पड़ेगा क्योंकि एफएमसीजी के बिजनेस में आपका मार्जिन बहुत कम होता है तो आपको अपने सामान को ज्यादा बेचना पड़ेगा इसी को हम वॉल्यूम कहते हैं 

जब आप fmcg स्टॉक को एनालाइज करते हैं तो आपको उसमें साल दर साल का वॉल्यूम ग्रोथ भी देखना है क्योंकि इसी से पता चलेगा कि वह कंपनी अपने प्रोडक्ट्स को कितना ज्यादा मात्रा में बेच पा रही है, जितना ज्यादा वह सामान बेच पाएगी उसे उतना ज्यादा सेल्स होगा और उतना मुनाफा होगा

वॉल्यूम ग्रोथ को बढ़ाना आसान नहीं होता है इसमें बहुत सारी परेशानियों एवं चुनौतियां भी आती हैं | इन परेशानियों को हम अलग से दूसरे section में देखेंगे जिसमें हम fmcg sector के चुनौतियों के बारे में बात करेंगे

Revenue mix

अब आप सोच रहे होंगे कि रेवेन्यू मिक्स क्या होता है fmcg कंपनी कोई एक तरह का सामान नहीं  बेचती है, वह बहुत तरह के प्रोडक्ट्स जैसे पर्सनल केयर, हेल्थ केयर, बच्चों को समान, खाने पीने का समान इत्यादि

रेवेन्यू मिक्स में हमें यह देखना रहता है कि वह जितने भी सामान बेच रही है उसमें से कितना प्रतिशत कौन से सेगमेंट से आ रहा है | कहीं ऐसा तो नहीं है कि वह चार सेगमेंट में सामान बेच रही है परंतु उसका सिर्फ एक ही सेगमेंट से रेवेन्यू आ रहा

अगर ऐसा है तो हमें उस कंपनी में निवेश करने से बचना चाहिए और ऐसी कंपनी को खोजना चाहिए जिसमें की रेवेन्यू मिक्स उसके हर प्रोडक्ट का बराबर हो या फिर उसके जीतने भी प्रोडक्टस हैं वो सब के सब का contribution उसके रेविन्यू में होना चाहिए | 

चलिए अब हम उन महत्वपूर्ण ratio के बारे में जानते हैं जिनकी मदद से हम FMCG stock analysis in hindi का आकलन कर के निवेश कर सकते हैं | 

EBIDTA margin 

FMCG stock analysis in hindi का यह हमारा सबसे महत्वपूर्ण पैरामीटर है | ebidta कंपनी के उस earning के बारे में बताता है जो इसे interest और टैक्स के पहले होता है | ऐसा देखा गया है की जिस कंपनी का ebitda दो डिजिट में होता है उसका शेयर निवेश के लिए अच्छा होता है | 

इसलिए जब आप fmcg स्टॉक को analyse कर रहे हैं तो आप उसके ebidta को जरूर देखें  और कोशिश करें की ऐसी कंपनी को खोजे जिसका ebidta 2 डिजिट में हो | 

एक बात का आपको और ध्यान रखना है सिर्फ ebidta को देख कर निवेश न करें आप ebidta के साथ बाँकी सब ratio को भी देखें तब जाकर निवेश करें | 

ROCE से fmcg स्टॉक को कैसे analyse करें

Roce एक बहुत ही महत्वपूर्ण पैरामिटर है जब भी हम FMCG stock analysis in hindi को करते हैं | जीससे यह पता चलता है की कंपनी कितनी कुशलता से निवेशकों के पैसे को मैनेज कर रही है और निवेशकों का पैसा बढ़ा रही है | 

अब आपके दिमाग में आ रहा होगा की Roce कितना होना चाहिए | जब आप Fmcg stock की ऐनालीसिस कर रहे है तो आपको ऐसी कंपनी खोजनी है जिसका Roce कम से कम 20% से ज्यादा होना ही चाहिए

आपको पिछले 3 और 5 साल का average roce भी देखना है और वह कितना होना चाहिए | वो कम से कम 15% और उससे ज्यादा तो होना ही चाहिए तभी वो कंपनी निवेश के लिए अच्छा शेयर माना जाएगा

P/E ratio से fmcg स्टॉक की ऐनालीसिस कैसे करें ?

P/E ratio एक बहुत ही महत्वपूर्ण पैरामिटर है जब आप fmcg stock की ऐनालीसिस कर रहे हैं परंतु इसे  इस्तेमाल करना आपको आना चाहिए तभी आप FMCG stock analysis in hindi को ठीक से कर पाएंगे | 

जब आप किसी fmcg शेयर को analyse कर रहे हों तब आपको उसके इंडस्ट्री P/E ratio को तो देखना ही है पर इसके साथ – साथ आपको उसके प्रतिद्वंदी कंपनी के P/E को भी देखना है | ऐसा क्यूँ?

ऐसा मैं इसलिए बोल रहा हूँ क्यूंकी किसी कंपनी का P/E ratio अगर उसके प्रतिद्वंदी से कम है और बाँकी सब ratio अच्छे हैं तो उसका P/E बढ़ने का स्कोप रहता है | अगर उसका P/E बढ़ता है तो उसका शेयर प्राइस भी बढ़ने का chance रहता है | 

जब आप fmcg के स्टॉक को analyse कर रहे हों तो आपको उस स्टॉक के P/E ratio expansion के बारे में सोचना है | P/E expansion एक बहुत ही महत्वपूर्ण पैरामिटर है जब आप ऐसे सेक्टर को analyse कर रहे हों | 

अब बात आती है की आपको यह कैसे पता चलेगा कि उस कंपनी का P/E expansion हो सकता है इसके लिए आपको उसका सेल्स ग्रोथ और प्रॉफ़िट ग्रोथ देखना है | 

जब उस कंपनी का P/E ratio उसके सेल्स ग्रोथ और प्रॉफ़िट ग्रोथ से कम रहता है तो ये एक संकेत होता है कि उसका P/E expansion हो सकता है | 

FMCG स्टॉक की चुनौतियाँ 

प्रोडक्ट को ब्रांड बनाने की चुनौती

जब भी हम fmcg stock analysis in hindi को करते हैं तो हमे इसकी चुनौतियों के बारे में भी पता होना चाहिए | अगर आपको यह लग रहा है कि fmcg मैं तो बस प्रोडक्ट बनाकर बेचना रहता है तो आप यह गलत सोच रहे हैं क्योंकि प्रोडक्ट तो कोई भी बना लेगा पर उस प्रोडक्ट को brand बनाना मुश्किल होता है | 

Fmcg सेक्टर में वही कंपनियां चलती हैं जिन्होंने अपना एक ब्रांड बना लिया है क्योंकि लोग ब्रांड के नाम से ही कोई चीज को खरीदते हैं |

मार्जिन को बढ़ाने की चुनौती

fmcg stock analysis in hindi की चुनौतियों का यह हमारा दूसरा चुनौती है | Fmcg स्टॉक में एक और चुनौतियां होती है कि उसमें margin बहुत कम रहता है इसलिए आपको अपने प्रोडक्ट को ज्यादा से ज्यादा मात्रा में बेचना रहता है तभी आप उससे मुनाफा कमा सकते हैं

डिस्ट्रीब्यूशन नेटवर्क अच्छा करने की चुनौती

fmcg stock analysis in hindi का यह हमारा आखिरी चुनौती है | अगर आप चाहते हैं कि आपका सामान ज्यादा ज्यादा भी के तो उसके लिए आपका सामान सभी दुकानदार के पास होना आवश्यक है

सभी दुकानदार के पास आपका प्रोडक्ट अभी होगा जब आपका एक अच्छा डिस्ट्रीब्यूशन नेटवर्क होगा इसलिए अगर आप एक अच्छा डिस्ट्रीब्यूशन नेटवर्क बनाने में कामयाब हो जाते हैं तो आपका सेल्स स्वाभाविक रूप से अपने आप बढ़ जाएगा

अगर आप सेक्टर के टॉप कंपनी को देखेंगे तो आप उसमें जा पाएंगे कि उनका डिस्ट्रीब्यूशन नेटवर्क लाजवाब है कमल का है जिसके कारण उनके प्रोडक्ट हर समय भारत के हर दुकानदार के पास होते हैं

fmcg stock list in india

  • ITC Ltd.
  • Hindustan Unilever Ltd. 
  • Nestle India Ltd. 
  • Britannia Industries Ltd. 
  • Godrej Consumer Products Ltd. 
  • Dabur India Ltd. 
  • Colgate Palmolive (India) Ltd. 
  • Marico Ltd. 
  • United Spirits Ltd.
  • United Breweries Ltd.

यह भी पढ़ें

FAQ

क्या आईटीसी एक एफएमसीजी स्टॉक है?

हां आईटीसी एक एफएमसीजी स्टॉक है | निफ़्टी एफएमसीजी का सबसे ज्यादा weightage वाला स्टॉक आईटीसी है |

एफएमसीजी स्टॉक क्या है?

एफएमसीजी स्टॉक ऐसे स्टॉक होते हैं जिसका प्रोडक्ट हम अपने रोजमर्रा की जिंदगी में इस्तेमाल करते हैं, जो कंपनी ऐसे ऐसा सामान भेजती है उन्हें हम एफएमसीजी कंपनी

मेरा नाम कौशल कुमार है और मैं इस वेबसाईट का संस्थापक हूँ | मैं इस वेबसाईट के माध्यम से आप सभी को शेयर मार्केट की बारीक जानकारियों को बताना चाहता हूँ जिससे आप भी शेयर मार्केट से पैसे कमा सकें | मैं शेयर मार्केट में काफी समय से काम कर रहा हूँ और मेरा उद्देश है कि अपने अनुभव को आप तक पहुंचा सकूँ |

1 thought on “FMCG Stock की ऐनालीसिस कैसे करें | FMCG Stock Analysis in Hindi 2024 Best Method”

Leave a Comment